उत्तराखंडहरिद्वार

वन विकास निगम कर्मचारी के परिजनों की दुर्घटना में हुई मृत्यु पर संवेदनाएं देने पहुंचे अध्यक्ष गहतोडी

हरिद्वार। पौड़ी बस हादसे कई परिवारों को कभी न भूलने वाला जख्म दे गया। इस हादसे में 33 लोग काल कवलित हो गए। जबकि, कई घायलों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। वही, घटना में वन विकास निगम कर्मचारी के परिवार के चार सदस्यों की दर्दनाक मौत हो गई। जिसके बाद ब्रहस्पतिवार को वन विकास निगम के अध्यक्ष कैलाश चंद्र गहतोडी द्वारा उनके निवास जा कर उन्हें संवेदनाएं प्रकट करते हुए अपने व सरकारी स्तर से उन्हें पूरी हर सम्भव मदद दिलाने की बात कही।

हरिद्वार जिले के श्यामपुर कांगड़ी के नजदीक गाजी वाली गांव के मूल निवासी चंद्र प्रकाश के बीते दिनों पौड़ी में हुई बस दुर्घटना में दो बेटे एक बहू सहित एक पोते की दर्दनाक मृत्यु हो गई। जिसके बाद ब्रहस्पतिवार को वन विकास निगम के अध्यक्ष कैलाश चंद्र गहतोडी द्वारा उनके निवास जा कर उन्हें संवेदनाएं प्रकट गई। उन्होंने बताया कि चंद्र प्रकाश के घर में उनकी बीमार पत्नी उनकी एक बहू और दो नातिन बची हैँ। एक नातिन जो अपने मां-बाप को खो चुकी हैं अब वह पूरी तरह से चंद्र प्रकाश पर निर्भर हैं। चंद्रप्रकाश धर्मपत्नी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं और इस दुखद घटना के पश्चात वह लगभग विक्षिप्त सी हो गई हैं। अध्यक्ष कैलाश चंद्र गहतोडी ने बताया कि चंद्र प्रकाश से भेंट कर उनके दुख में अपनी सहानुभूति प्रकट की गई और अपने व सरकार की तरफ से उन्हें पूरी मदद करने का आश्वासन दिया गया। इस घटना पर दुख प्रकट करते हुए उत्तराखण्ड वन विकास निगम के प्रबंध निदेशक डा. धनंजय मोहन द्वारा चंद्रप्रकाश को अपनी संवेदनाएं प्रकट करते हुए अपने व्यक्तिगत स्तर से उन्हें पूर्ण सहायता करने का भरोसा जताया गया है। इस दौरान उनके साथ के साथ हरिद्वार प्रभाग एवं वन विकास प्रबंधक सत्यपाल रावत व हरिद्वार वन प्रभाग में कार्यरत वन विकास निगम के अनेक कर्मचारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close